Uncategorized

Achhe vichar

*चींटी* से *मेहनत* सीखिए  *बगुले* से *तरकीब*             और  *मकड़ी* से *कारीगरी।* “अपने विकास के लिए अंतिम समय     तक *संघर्ष* कीजिए।       संघर्ष ही जीवन है।  *”अपनी जिंदगी के किसी भी दिन को मत कोसना”*…!!!       *”क्योंकि;”*  *”अच्छा दिन खुशियाँ लाता है”*..!!! *”और बुरा दिन… Continue reading Achhe vichar

save girl child

​*हर पिता के भाग्य मे बेटी नहीं होती*

*हर पिता के भाग्य मे बेटी नहीं होती* *————————————–* *राजा दशरथ जब अपने चारों बेटों की बारात लेकर राजा जनक के द्वार पर पहुँचे तो राजा जनक ने सम्मानपूर्वक बारात का स्वागत किया।* *तभी दशरथ जी ने आगे बढकर जनक जी के चरण छू लिये।चाॅककर जनक जी ने दशरथ जी को थाम लिया और बोले… Continue reading ​*हर पिता के भाग्य मे बेटी नहीं होती*